Let’s Watch Indu Sarkar

I would have preferred to see Lipstick under My Burkha this weekend. A college junior  (Raj Tomar) visited my place and since i wanted to take him to movie, he preferred Indu Sarkar. “Sir politics ke bare mein hain”. Seeing his enthusiasm and liking for the topic, i surrendered to the choice of young generation.

I was expecting a movie on late prime minister instead it was on a character in the similar times played by Kirti Kulhari. I was a bit surprised by finding the movie hall empty with hardly 20 people sitting in a capacity of around 120 people.

Madhur Bhandarkar has touched a sensitive topic with a sensible ease.  The characters are well chosen and dialogues are finely crafted to evoke certain feelings.

It was interesting to watch the movie and then google the real characters during Turkman Gate Incident in Delhi in that era.  History can be a great teacher if read properly.

All in all 4 out of 5 for the movie. That one point is missing due to lack of good songs in the movie.

#PaisaVasool #InduSarkar #Movie #Politics #Emergency

 

 

 

आज तेरी परीक्षा है

बचपन हिंदी के साथ बीता फिर आयी अंग्रेजी
किसी मोड़ पर हिंदी साथ छोड़ आयी अनजाने
पीछे देखा तो कंप्यूटर ने ये दिन दिखलाया शायद
आज हिंदी दिवस है और आज मेरी भी परीक्षा है

बिटिया, आज स्कूल में तेरी हिंदी परीक्षा है
हिंदी ना होती तो शायद हम ना होते
ये फिल्मो के न गीत होते ना संगीत होते
आज हिंदी दिवस है और आज मेरी भी परीक्षा है

दूर बैठा हूँ और आज तू स्कूल न जा सकी
दुखी हुआ पर इस बात पे नहीं पर इस बात पे
कि कई नन्ही बेटियों ने स्कूल तक ना देखा
आज हिंदी दिवस है और आज मेरी भी परीक्षा है

ऐसी परीक्षाएं और आएँगी, आके वक़्त के साथ गुजर जाएँगी
हमें कृतज्ञ रहना है कि हम पढ़ लिख सके और आगे बढ़ सके
साथ ही उन नन्ही बेटियों का भी सोचे जो स्कूल न देख सकीं
आज हिंदी दिवस है और आज हम सब की परीक्षा है